man

Anil Yadav

पेशे से पत्रकार. शिक्षा बी एच यू समेत कई विश्वविद्यालयों में. उग्रवाद और आदिवासी जीवन के अध्ययन के लिए उत्तर पूर्व समेत देश के कई हिस्सों की यात्राएँ. 2011 में पहला कहानी संग्रह नगरवधुएं अख़बार नहीं पढ़तीं और 2017 में वैचारिक लेखों का संग्रह सोनम गुप्ता बेवफा नहीं है प्रकाशित.

Book Writen by Anil Yadav


Nagarvadhuyen Akhbar Nahi Padhtin

Anil Yadav
  • Paperback Rs-90
  • Rs100
  • Hardbound Rs-150
  • Rs 200

Wah bhi koi des hai mahraj

Anil Yadav
  • Paperback Rs-150
  • Rs170
  • Hardbound Rs-225
  • Rs 295

Sonam Gupta Bewafa Nahi Hai

Anil Yadav
  • Paperback Rs-199
  • Rs290
  • Hardbound Rs-399
  • Rs 550